Category «Kamukta Kahani»

ऑफीस फ्रेंड की मस्त चुदाई

हेलो रीडर्स, मेरा नाम जय है. मैं इस का रेग्युलर रीडर हू. आज मैं अपना सेक्स एक्सपीरियेन्स शेर करना चाहता हू. मैं एक प्राइवेट कंपनी मे इंजिनियर हू. ये बात करीब 1 साल पुरानी है जब मैं इस कंपनी मे नया था. हमारे डिपार्टमेंट मे एक लड़की काम करती थी उसका नाम कल्पना था देखने …

मम्मी को दीदी के ससुर ने चोदा

मेरा नाम कोमल है, मैं 19 साल की हूँ, बरेली की रहने वाली हूँ। यह मेरी पहली स्टोरी है. मेरे घर में मेरी मम्मी का नाम रंजीता है वो 42 साल की है मेरी बड़ी बहन 22 साल की है मम्मी दिखने में सेक्सी है उनके बूब्स बहुत टाइट है उनका जिस्म भी कामुकता से …

चाची की मस्त गांड और चुत चुदाई

नमस्कार भाईयो, मैंने अन्तर्वासना पर बहुत सी कहानियां पढ़ीं हैं. मैं आज अपनी एक सच्ची कहानी पेश कर रहा हूं. यह बात उस समय की है, जब मैं बी.कॉम कर रहा था और इसी सिलसिले में मुझे आगरा जाना पड़ा. आगरा में मेरे चाचा चाची रहते थे. मैं उस समय आगरा में ही रह रहा …

शबाना चुद गई ट्रेन के बाथरूम में

अन्तर्वासना के सभी दोस्तो को मोहित का प्यार भरा नमस्कार, मैं नैनीताल का हूँ और दिल्ली यूनिवर्सिटी से से पढ़ाई कर रहा हूँ. मैं अन्तर्वासना का नियमित पाठक हूँ तो सोचा आज मैं भी अपनी एक रियल चुदाई की कहानी आपके सामने पेश कर दूँ. मेरा नैनीताल से दिल्ली ट्रेन से आना जाना रहता था. …

गर्लफ्रेंड की चुदाई दास्तान

दोस्तो, मेरा नाम गुल्लू है। मैं इलाहबाद में अपना स्टार्टअप चलाता हूँ और यहीं कटरा में रहता हूँ जहाँ कोई भी कभी भी आ जा सकता है। क्योंकि मेरा मकान मालिक इलाहाबाद के बाहरी साइड में नया घर बना कर रहता है। जब मैं इलाहाबाद नया नया आया था तो मेरा पहला उद्देश्य ही केवल …

डॉक्टर साहब की गांड मराने की तमन्ना

“उई … बहुत मोटा है..!” “क्या लग रही है? निकाल लूं?” “नहीं डाले रहो … उसने सही कहा था.” “किसने? क्या बात है?” “तो शुरू करूं … परमीशन है? “हां भाई साहब यह भी कोई पूछने की बात है. लंड डाले हुए दो-तीन मिनट हो गए … कब तक डाले रहोगे. वैसे भी सुना है …

पुलिस वाली रंडी बन कर चुदी

अन्तर्वासना के सभी पाठकों को मेरा नमस्कार! आपने मेरी पिछली कहानी विदेशी महिला मित्र के साथ सेक्स सम्बन्ध पढ़ी और पसंद की. धन्यवाद. मैं राजदीप सिंह आप लोगों के साथ अपनी नई कहानी ले कर हाजिर हूँ. दोस्तो, हम सभी पुलिस वालों से नफरत करते हैं और उनके लिए हमारे दिलों में कोई दिल विशेष …