रीडर को ओर उसकी बहन को चोदा

हेलो दोस्तों राकेश का हेलो सबको और लड़कियों भाभियों आंटीयो को हमारे उसका भी हेलो आशा करता हूँ जैसा रेस्पॉन्स मेरे पहले की कहनियों आप सभी ने दिया वैसा ही इस कहानी मे भी मिलेगा मेरे हर कहानी मेरी अपनी और सच्ची होती है. सच बताओं आज व्हातसाप पे इतने दोस्त मिले हैं और सबसे ज़्यादा उन भाभियों को जो मुझे कभी अकेला फील नही होने देती हैं . और रियली बहुत खुशी मिलती है जब आप ये कहती हैं मैने आप को खुश कर दिया और आप की बदनामी भी नही किया आई फील हॅपी पहले मैं ये पैसों के लिए करता था पर जब से जॉब लगी है फ्री मे करता हूँ. उन लड़कियों का भी शुक्रिया जो अपने बॉय फ़्रेंड के साथ रहते हुए भी सेक्स का मज़ा लेना चाहती हैं क्यों की मैं फोन कर के परेशान नही करता हयद्राबाद नागपुर की भाभियाँ गर्ल्स और आंटी अगर आप भी जीवन के असली मज़े लेना चाहती हैं मुझे बताइए मैं हर सुख दे सकता हूँ कोई पाबंदी नही और ये सब सिर्फ़ हमारे बीच रहेगा मुझे मैल करे मेसेज करें व्हातसाप पे एड करें मेरा नाम राकेश हैं मैं नागपुर मे रहता हूँ अभी हयद्राबाद मे हू 25 उमर हैं 6 इंच का पप्पू है जिसके कई प्यासी चूत दीवानी हैं मेरी आईडी है ******** और इस कहानी मे आप को मेरा नंबर भी मिल जाएगा या मुझे मैल कर के मेरा नंबर ले सकते हैं

अब आता हूँ अपनी कहानी पे ये बात 6 महीने पहले की है एक जभटिंडा की लड़की जो सेक्स स्टोरी की रेग्युलर रीडर है और उसे मेरी कहानियाँ बहुत अछी लगती हैं वो

एक दिन मुझे व्हातसाप पे मेसेज की मैं भी जवाब दे दिया वो अभी कॉलेज मे थी उससे रोज बात होने लगी पर रात को कम ही बात कर पाता था क्यों की कई बार मैं दूसरी लड़कियों के पास जाता था रात मे उसे इससे कोई प्राब्लम नही थी उससे बात कर के ऐसा लगता था की वो सेक्स की भूकी है वो मुझे अपनी चूत की पिक्स भेजती और फोन पर उंगली करती उससे मेरी बात अचानक बंद हो गई 3 महेने पहले उसका दूसरे नंबर से मेसेज आया उसने बताया उसकी शादी फ़िक्स हो गई है और लड़के वेल देल्ही के हैं

वो मुझसे ही फर्स्ट टाइम चुदना चाहती थी मैं कहा अब तो शादी हो रही तुम्हारी उसने बोला वो ट्राइ करेगी मैं तो मन ही मन खुश था एक और सील तोड़ने को मिलेगी हम बातें करने लगे उसने बोले.वो खुद मेसेज करेगी मैं नही मैंने बंद कर दिया मेसेज लास्ट मंथ उसका मेसेज आया की वो हयद्राबाद आ गई है और उसका मिस कॉल आया उसने बताया. उसकी शादी के बाद से उसके हज़्बेंड उससे आछे से बात नही करते वो किसी और से प्यार करते हैं

मैने बहुत समझाया की मनाने की कोशिश करो अब तो शादी हो गई उसने बताया वो अभी भी वर्जिन है मैने पूछा तुम क्या चाहती हो उसने बोला अभी भी वो मुझसे ही पहली बार चुदना चाहती है मैने बोला दिस संडे का प्लॅन बनाते हैं मैं अकेला ही रहता हूँ .मैने उससे कहा की वो सिकंदराबाद मेट्रो पे मिले दोस्तों संडे था दिन आ गया

वो सिकंदराबाद पे मिले यार पहली बार देखा था उसको दूध जैसे सफेद पिक से दस गुना सुंदर लग रही थी मैने इशारे से कहा पीछे आओ वो आने लगी मैने आछे से चेक किया कोई पीछा तो नही कर रहा मैं उसकी मेसेज कर रहा था कहाँ से कैसे घूमना है वो मेरे रूम तक आ गई मैं उसको अंदर बैठाया साड़ी मे इतनी सेक्सी लग रही थी इतनी तो स्वर्ग की अप्सरा भी नही होंगी.वो शर्मा रही थी और डर भी रही थी उसने पूछा तुम वीडियो तो नही बनाओ गे ना मैने हस्ते हुए बोला अभी भी यकीन ना हो तो. मैं घर छोड़ आता हूँ और मेरा मोबाइल उसको दे दिया और कंप्यूटर भी बंद कर दिया उससे पूछा अब तो यकीन है

वो बोली ऐसी बात नही बस डर लग रहा था मैने हग किया उसको ऐसा लगा कोई टेडी बेर गले लगाया हो एक मखमल सी उसने भी हग किया अब थोड़ा डर कम हुआ था उसका वो भी गले लगने लगी थोड़ी देर मे मैं चुम्मा लेने लगा और गाल गर्दन से होठों तक आया आए हाई आँखे बंद कर हल्की तेज साँसे ले रही थी मानो जान ले कर ही छोड़ेगी मैने होठों पर अपने होंठ लगा दिए और हल्का हल्का किस करने लगा

वो सिसकारियाँ लेने लगी उसके हातो की चूड़ी और कहर ढा रही थी मैने बोला पहले कपड़े उतार दो वरना खराब हो जाएँगे उसने कहा लाइट बंद कर लो मैने कहा जानेमन आज तो खुशियो का दिन है अंधेरे मे नही होता है उसके कपड़े उतारे मैने वो कांप रही थी और उसका पेट हिल रहा था पतली सी कमर मैने सारे कपड़े उतार दिए उसके दूध एक दम सुडोल थे और चूत एक दम साफ मैने उसके सारे बदन को किस करना शुरू किया उम्म्म्मम अहह ओह्ह्ह ऐसे आवाज़ करने लगी वो उसने कहा उसके चूत मे जैसे चईटियाँ चल रही मैने उसके चूत देखी बेचारी पानी छोड़ रही थी मैने उसपे हल्का सा किस किया

और फिर चाटने लगा पहले तो आराम से फिर जीभ अंदर डाल डाल कर चाटने लगा वो अह्ह्ह ओह्ह्ह्ह्ह उम्म्म्म राकेश आ करने लगी और मेरे बाल सहलाने लगी मैं भी उसकी चूत के रस पिए जा रहा था वो तडपे जा रही थी आह ओह्ह्ह राकेश करे जा रही थी मैं भी पूरी जीभ अंदर डाल डाल कर चूसे जा रहा था और वो अह्ह्ह्ह उम्म्म्ममममम आअहह उम्म्ममम्म्मममह ओह्ह्ह्ह्ह्ह्ह किए जा रही थी और थोड़ी देर बाद उसने मेरे बाल कस कर पकड़े और सारा पानी छोड़ दिया और लिपट गई

Pages: 1 2

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *