एनकाउंटर्स वित सिस्टर: फर्स्ट सेक्स

एनकाउंटर वित सिस: फर्स्ट फक ये कहानी मेरी और मेरी चाची की लड़की स्वीटी के बारे मे है. चाचा की 3 साल पहले ही डेत हुई है तो. हम ही उनका घर चलाते है. स्वीटी दिखने मे फेर है. उसके लंबे घने बाल कमर तक आते है. उसका फिगर 36 30 37 है. अभी वो 23 ईयर्स की है. और मैं 24. मैं एवरेज गाइ हू. 7इंच लंबा लंड. फेर. इतना स्टोरी के लिए काफ़ी है. ये बात पिछले गर्मियो की है. मे2014 हम सब स्वीटी के घर हॉलिडेज़ के लिए गये. घर मे जाते ही उसने मुझे गले लगाया. वैसे तो हम हमेशा वॉट’स अप और एसएमएस पे चॅट करते थे पर सामने मिलने से हम काफ़ी एग्ज़ाइटेड थे. पहले दिन रात को मैं अकेला ही छत पे सोया था. और सब नीचे कमरे मे सोए थे.

उसका एसएमएस आया करीब 12.30 बजे स्वीटी:” सो गये क्या?” मैं: ” नही. जीएफ़ से चॅट कर रहा हू. तू क्यू नही सोई?” स्वीटी:” बीएफ से चॅट कर रही हू.” मैं:” ओके.. सीरीयस वाला बीएफ है या टाइम पास वाला.” स्वीटी:” “टाइम पास” और अपकी जीएफ़? मैं” दोनो भी नही, ” स्वीटी:” मतलब ? सिर्फ़ सेक्स? भाई… कितनी जीएफ़ है सच बताना… ” मैं. ” अभी तो एक है. पर पहले बहुत थी.

अब तू सच सच बता. तेरे कितने बीएफ है.” स्वीटी:” किसिको बोलना मत अभी 2 है. एक सेक्स के लिए और एक प्यार के लिए. ” मुझे ऐसे ही रिप्लाइ की उम्मीद थी. अब मुझे मेरा रास्ता साफ होता दिख रहा था. मैं” दट’स ग्रेट. यही उमर है मज़े की. कहा हो तुम अभी प्यारी बहना?” स्वीटी: “अभी रसोई मे हू. दूध पीने आई हू मेरे प्यारे भाई, दूध पीना है तो आ जाओ?” मैं” मुझे कॉन्सा दूध दोगि?” स्वीटी” जो चाहिए वो ले जाओ. सब तुम्हारा ही है डियर ब्रो” मैं झट से नीचे रसोई मे गया. वो मेरी तरफ पीठ करके खड़ी थी.. वो अभी पिंक टीशर्ट और ब्लॅक लेगिंग मे थी.

मैं पीछे से गया और उसे हग किया. और उसकी चूतड़ मे लंड दबाते हुए, एक हाथ से पेट को सहलाने लगा और उसके मूह पे हाथ रखकर उसके कानो मे कहने लगा, ” घबराव मत डियर. मैं हू शेखर भैया. , ” अब वो भी समझ गयी थी की मैं क्या चाहता हू. और वो भी चूतड़ को लंड पे दबा कर साथ दे रही थी. मैं उसकी फीलिंग्स समझ गया. और मूह से हाथ हटा दिया. उसके नेक को चाटने लगा. और लेफ्ट हॅंड से नेवेल को सहलाने लगा और राइट हॅंड से चूत को. स्वीटी: ब्रो, प्लीज़… यहा नही मॉम आजाएगी.. … उपर चलो सारा दूध पिलो.”

मैने उसे गोद मे उठाया और छत पे ले गया. उसे बेड पे लिटा कर मैने अपने कपड़े उतार दिए. और उसने भी समय ना गवाते हुए अपने कपड़े उतार दिए. अब हम दोनो भी पूरे नंगे थे. मैं उसके पास गया और चूत मे एक उंगली डालकर लिपकिसस करने लगा वो भी पूरा साथ दे रही थी. वो मेरे लंड को अपने राइट हॅंड से हिला रही थी और लेफ्ट हॅंड से मेरी गॅंड को दबा रही थी. मैं” काफ़ी एक्सपीरियेन्स्ड लगती हो बहना” स्वीटी” ये तो ट्रेलर है मेरे चोदु भैया .. पिक्चर अभी बाकी है.” ये सुनते ही मैं सातवे आसमान पर पहुँच गया… और 69 पोज़िशन मे आ गया.

Pages: 1 2