मसाज़ वाले से चुद गयी

उसने मेरी पेंटी के अन्दर हाथ दाल दिया और मेरी चूत में उंगली करने लगा. मैंने बोला अच्छे से करो… उसने मेरी पेंटी उतर दी और मेरी चूत पर बहुत सारा तेल डाल दिया. और मेरी चूत को मसलने लगा. मुझे बहुत अच्छा लग रहा था तो मैंने भी उसका लंड अपने मुह में ले लिया और लंड को चूसने लगी. वो भी चूत में एक हाथ से उंगली करने लगा और दुसरे हाथ से मेरे बूब्स मसलने लगा करीब १० मिनट बाद मेरी चूत से कण्ट्रोल नहीं हो रहा था.

फिर मैंने निशांत से कहा अपने इस लम्बे से और बड़े से लंड से मेरी चूत की प्यास नहीं बुझायोगे क्या… उसने भी बिना देर करे मेरी चूत में अपना लम्बा सा ७ इंच का लंड डाल दिया और जोर जोर से अन्दर बहार करने लगा और में आह्ह्ह्ह…. आआआ आह्ह्हह्ह…. आआआ अह्ह्ह्हह …. करने लगी. मेरे मुह से आवाज़े निकलना बंद ही नहीं हो रही थी . मुझे उसके साथ चुदाई में बहुत मज़ा आ रहा था. फिर ३० मिनट बाद उसने मुझे डॉग पोजीशन में कर के और मेरी गांड में उंगली करने लगा और फिर अपना लंड अन्दर डाल दिया. में बोलने लगी और जोर से गांड फाड़ दे मेरी और तेज़ तेज़ लंड अन्दर बहार कर लगा. उसने अपनी स्पीड और तेज़ कर दी.

अब मेरी चूत और गांड शांत हो गयी थी पर उसके लंड को अभी और चोदना था मेरी चूत को. उसने अपना लंड मेरे मुह में दाल दिया और अन्दर बहार करने लगा. और उसी स्थिति में मेरी चूत पर और तेल डाला और मसलने लगा. ५ मिनट में ही मेरी चूत फिर से चुदने को तैयार हो गयी. वो फिर से मुझे चोदने लगा और इस बार भी मुझे बहुत मज़ा आ रहा था आआह्ह्ह्ह…. आआह्ह्हाअ…. करके मेरे मुह से आवाज़े निकल रही थी और में साथ साथ बोल रही थी की निशांत तुम्हारा लंड एक दम मस्त है, मुझे बहुत आनन्द दे रहा है…

और जोर से… निशांत… और जोर से निशांत… aaahhhhh…. आआआ…. वो भी बोला तुम्हारी चूत भी कुछ कम नहीं है. २० मिनट बाद उसने पोज चेज़ करा और मुझे टेबल के सहारे खड़ा कर के और मेरी गांड में लंड डाल कर हिलाने लगा करीब २५ मिनट के बाद हम दोनों थक गए ओर लेट गए. लेकिन न ही मेरी चूत को और न उसके लंड को शांति मिली थी तो हम ६९ की पोजीशन में हो गए. वो मेरी चूत चाटने लगा और में उसका लंड चूस रही थी. १५ मिनट बाद मेरी मेरी चूत का पानी भी निकल गया और उसका लंड का भी और हम दोनों को बहुत मज़ा आया.

अब में उठी और चंगे करने चली गयी . लेकिन में जैसे ही कपडे पहनने लगी निशांत का लंड मुझे देख कर फिर चोदने को करने लगा. उसने अपने हाथ में तेल लिया और आकर मेरे बूब्स पर लगा कर उसे चूसने लगा. मैंने बोला बस करो अब बहुत हो गया तो उसने कहा रीता मेरे लिए एक बार और, और अब वो मज़ा दूंगा जो तुम हमेश याद रखोगी. मैंने कहा ओके ट्राई करते है. तुम कितना मज़ा देते हो… उसने मुझे ज़मींन पर ही लिटा दिया और मेरे मुह में अपना लंड डाल दिया और खुद थोडा सा उठा और मेरी चूत में बहुत सारा तेल लगाकर उंगली करने लगा और मसलने लगा.

उसने जैसे ही मेरी चूत को मसला मेरी स्पीड उसके लंड को चूसने की और बढ़ गयी. उससे भी रुका नहीं गया और उसने मेरी चूत चाटनी शुरू कर दी और बोला क्या चूत है तुम्हारी बार बार चोद के भी मन कर रहा है और चोदु. मेरे लंड को शांत ही नहीं होने दे रही तुम्हारी चूत… मैंने भी कहा तुम्हारा लंड भी बहुत अच्छा है मेरी चूत को कितना आनंद दिया है उसने… अब मेरी चूत चुदना चाहती थी तो मैंने निशांत से कहा चोदो मुझे मेरी चूत चुदना चाहती है तुम्हारे लंड से… उसने बोला चलो कोई नया पोज ट्राई करते है. तो मैंने कहा जो करना है करो पर प्लीज जल्दी से चोदो मुझे. अब में भी एक्साइट हो चुकी थी. और मुझे बस उसका लंड चाहिए था.

उसने मुझे उठा लिया और पीछे की तरफ से अपन लंड मेरी चूत में डाला और साथ ही साथ मेरी बूब्स जोर जोर से दबाने लगा. में और एक्साइटेद हो गयी. मैंने बोला निशांत पुरे दम से चोदो मुझे… और जोर लगायो… . वो भी पूरी ताकत लगा कर चोदने लगा. मुझे इतना मज़ा आने लगा की मैंने कहा मेरी गांड को भी ऐसे ही चोदना. वो बोला पहले तुम्हारी चूत अच्छे से चोद दू. फिर गांड भी चोदुंगा. ५० मिनट बाद मेरी चूत को शांति मिली और अब वो मेरी गांड चोदने लगा.

उसका पूरा ७ इंच का लंड मेरी गांड को आनंद दे रहा था. मैंने कहा मुझे मज़ा और मज़ा चाहिए. और उसने अपनी दो ऊँगली भी मेरी गांड में दाल दी और मेरी चूत में भी उंगली करने लगा. मैंने कहा निशांत इतना माँ मुझे पहले कभी नहीं आया. और मैंने कहा की तुम्हारा लंड बहुत शानदार… है. मज़ा ला दिया इसने तो. उसने भी जवाब दिया तुम्हारे बूब्स जैसे बूब्स मैंने आज तक नहीं दबाये, तुम्हारी गांड जैसे गांड को अभी तक नहीं चोदा, और क्टुम्हारी चूत जैसी चूत को आज तक नहीं चाटा.

Pages: 1 2