ममेरी बहन को दर्द देकर चोदा-1

मुझे तीन महीने के लिए अपनी ममेरी बहन के घर रहना था. वो तलाकशुदा थी और बहुत सेक्सी थी. बहन की चुत मिल जाती तो मजा आ जाता. उसके मोबाइल में मैंने देखा कि .

मेरी पिछली सेक्स स्टोरी
ट्यूशन टीचर से प्यार और सेक्स
मेरी टीचर की चुदाई कहानी थी.

दोस्तो यह रही मेरी एक और सच्ची कहानी जिसमें मैंने अपनी ममेरी बहन को बहुत मजे से चोदा।

मेरी बहन की उम्र 34 साल है. वह मुझसे 8 साल बड़ी है. मैं उन्हें दी कहता हूँ. नाम श्वेता, गोरी और दिखने में एकदम मस्त माल जिसे देखते ही चोदने का मन करे!

श्वेता का तलाक 3 साल पहले हो गया, उनका एक सात साल का बेटा है। वह पुणे में अकेली अपने बेटे के साथ रहती है और वहाँ सॉफ्टवेयर इंजिनियर की जॉब करती है।
मैं पिछले साल अपने आफिस प्रोजेक्ट के सिलसिले में पुणे गया था जहाँ मुझे 3 महीने तक काम करना था।

मैंने पुणे जाने से पहले अपनी बहन को फोन करके पूछा- दी आपके अपार्टमेंट में मुझे 3 महीने के लिए रूम मिल जाएगा क्या?
श्वेता दी ने पूछा- क्यों चाहिए?
मैंने उन्हें सारी बात बताई।
उन्होंने कहा- तुम मेरे साथ ही क्यों नहीं रह लेते? सिर्फ 3 महीनों की ही तो बात है।
मैंने थोड़ा सोचा और हाँ कर दी।

एक हफ्ते बाद मैं श्वेता दी के घर पर पहुँचा, उन्हें देख कर काफी अच्छा लगा। हम दोनों ने काफी बातें की और अगले दिन से अपने अपने काम पर लग गए।
उनका 3 BHK का घर है, जिसमें अब एक कमरे में मैं रहने लगा था।

रोज सुबह और शाम को मेरी और दी की मुलाकात होती थी लेकिन रात को सोते वक्त मेरे दिमाग में श्वेता दी के लिये कुछ और ही भावनायें चल रही थी।

एक हफ्ते बाद मैंने डिनर के वक्त पूछ लिया- दी अपने दूसरी शादी क्यों नहीं की?
उन्होंने कहा- अब अपनी लाइफ अपने तरीके से जीना चाहती हूँ।

मुझे शक हुआ कि शायद दी का कोई चक्कर चल रहा होगा।
लेकिन मैंने ज्यादा कुछ नहीं पूछा।

हमने डिनर किया और साथ में टीवी देखने लगे. थोड़ी देर में ही मेरे भानजे को नींद आने लगी. दी उसे रूम में सुलाने गयी और आई नहीं.
मैंने सोचा कि दी भी सो गई क्या?

मैं उनके कमरे के पास गया और चाबी के छेद से देखा. श्वेता ब्रा और पैंटी में थी और नाइटी पहन रही थी.
यह देख मेरा लण्ड खड़ा होने लगा।

मैं रुक कर और देखने लगा. उन्होंने पूरी नाइटी पहनी और बाहर आने लगी। मैं वापस हाल के सोफे पर बैठ गया और अपने लण्ड पर कंट्रोल किया.

दी नाईट ड्रेस में एकदम माल लग रही थी। नाइटी थोड़ी ढीली होने के कारण उनकी क्लीवेज नजर आ रही थी। मैंने ध्यान कहीं और लगाया लेकिन बार बार उनके चूचों पर मेरी नजर जाने लगी. हम साथ में मूवी देख रहे थे.

थोड़ी देर में मेरा भानजा जाग गया और दी उसे सुलाने चले गई। मैं फिर से इंतजार करने लगा लेकिन इस बार दी नहीं आई।
मैं भी टीवी बन्द कर अपने रूम में चला गया और सोने की कोशिश करने लगा।

मगर दी के गोरे गोरे बूब्ज़ मेरे ध्यान से नहीं जा रहे थे।
मेरे दिमाग में एक शैतानी आईडिया आया. मैंने दी के नहाने जाने से पहले अगले सुबह अपना मोबाइल में वीडियो रिकॉर्डिंग आन की और बाथरूम में छुपा दिया जिससे मैं दी को नहाते हुये देख सकूं।

थोड़ी देर बाद दी नहा कर वापस आई और फिर मैं नहाने गया और अपना मोबाइल वापस ले आया.

मैं लेट हो रहा था तो सोचा कि वीडियो रात में देखूंगा।
और फिर हम दोनों जॉब पर निकल गए.

दिन भर मैं दी के वीडियो को देखने के लिये तरस रहा था।

फिर रात को घर पहुच कर रोज की तरह वही नार्मल चीजें हुई।

और मैं वीडियो देखने के लिए अपने कमरे में गया, वीडियो में दी मस्त अपने कपड़े उतार रही थी, उन्होंने वीडियो में जैसे ही अपनी ब्रा उतारी उनके गोरे गोरे चूचे और गुलाबी निप्पल्स को देख कर मेरा लण्ड पूरा खड़ा हो गया।

तभी मैंने देखा कि दी अपने दोनों चूचों को मसल रही हैं और अपनी चूत रगड़ रही है. यह देख मेरा लण्ड पूरा कड़क हो गया। मेरा मन करने लगा कि अभी दी के पास जाकर सब कुछ कर लूं।
दी अपने जिस्म से खुद ही खेल रही थी. मुझसे रहा नहीं गया और मैंने वीडियो देख कर 3 बार अपना हिला लिया और सो गया।

एक महीने तक तो कुछ नसीब नहीं हुआ सिवाय दी की वीडियोज़ के! फिर मैंने दी का व्हाट्सएप स्कैन कर लिया और उनके सारे चैट अपने फोन पर पढ़ लिये.
तब मुझे पता चला कि दी कितनी चालाक हैं। वो दो लोगों से सेक्स चैट करती हैं और अपनी नंगी फ़ोटो भी भेजा करती हैं।

मैंने सारी चैट पढ़ी तो पता चला कि दोनों ने दी को बहुत बार चोदा है। मैंने सोचा जब दी इन दोनों से करवा सकती है तो मैं भी चोद सकता हूं. मैंने इरादा बना लिया दी को चोदने का।

और अगले दिन डीनर के बाद मैंने दी से कहा- दी, आपकी कुछ जरूरतें पूरी करनी हों तो मुझे कह सकती हो, मैं हेल्प कर सकता हूँ।
दी ने कहा- क्या मतलब?
मैंने बिना सोचे बोल दिया- पर्सनल हेल्प . जिसकी आपको जरूरत है और मुझे भी।

दी ने पहले मेरी बातों का बहुत गुस्सा किया. फिर मैंने उन्हें सब बातें बताई और समझा बुझा कर चोदने के लिए राजी किया।
श्वेता दी ने कहा- गोलू को सो जाने दो.

Pages: 1 2