जीरो से हीरो का सफर

Chut chudai ki khani married ladki ki. फेसबुक पर एक लड़की से दोस्ती हुई. जब मैं उससे मिला तो वो शादीशुदा थी. उस लड़की की चूत चुदाई की कहानी का मजा लें.

दोस्तो, कैसे हो आप लोग? उम्मीद है सबके लंड कड़क, बूब्स नरम और चूत गीली होगी।
मैं अन्तर्वसना का नियमित पाठक हूं. दूसरों की कहानी पढ़ पढ़ कर बहुत मूठ मारी है। मैं भी सोच रहा था बहुत टाइम से कि अपनी भी चूत चुदाई की कहानी सब तक पहुँचाऊं।

वैसे मेरा नाम शुभ है और मैं बरेली का रहने वाला हूं. देखने में मेरी बॉडी एवरेज है. हाइट 5’9″ है और लंड का साइज 6″ है। मैं बहुत शर्मीला टाइप का बंदा हूं. कॉलेज तक कभी लड़की बात नहीं की.

फिर अचानक ऐसे हवा चली कि तब से आज तक मैं बहुत सारी भाभी और लड़कियों को चोद चुका हूं।
कुछ ऐसे ही शुरू हुआ सफर मेरे जीरो से हीरो बनने का सफ़र।

पर भाभियों में कुछ अलग ही बात होती है. उनके साथ अलग ही मजा होता है। जितनी भी भाभी और लड़की को डेट किया, उन्हें मेरी सेक्स लाइफ के बारे में सब कुछ पता होता था. फिर भी वो मेरे साथ होती थी और कहती थी- शुभ, तुममें कुछ बात है जो औरों से अलग करती है। तुम हमेशा सच बोलते हो और सबका भरोसा बना कर रखते हो. किसी का दिल नहीं तोड़ते हो. बस इसी वजह से तुम्हें कोई मना नहीं करता है। वैसे भी हर लड़की औरत को ऐसा बंदा चाहिए होता है जो उनका भरोसा बना कर रखे और उनकी फीलिंग्स को समझें।

अब अपनी चूत चुदाई की कहानी शुरू करता हूं:

मैं आपके साथ फर्स्ट सेक्स एक्सपीरियेंस शेयर कर रहा हूं, अगर आपको पसन्द आया तो और भी करूंगा।
बात 7 साल पुरानी है. तब मैंने कॉलेज खत्म किया था और नौकरी शुरू की थी।

तब मैंने फेसबुक शुरू ही किया था. एक दिन पूजा (बदला हुआ नाम) नाम से रिक्वेस्ट आयी. शुरू में तो आईडी फर्जी लगी।

फिर धीरे धीरे बात करने के बाद पता चला कि आईडी किसी भाभी की है. और कैंट में रहती है।
यह आईडी उसने टाइमपास के लिए बनाई थी।

हमारी बात इतनी बढ़ गई थी कि जब भी हम दोनों को टाइम मिलता तो बात करते.

एक दिन मैंने उसे मिलने को बोला और वो तुरंत मान गई।
मुझे यकीन नहीं हुआ क्योंकि लड़की से पहली बार मिलने जा रहा था और मेरी फट रही थी।

अगले दिन सुबह उसने कॉल किया और मेरे को मिलने फॉनिक्स मॉल बुलाया।

जब मैं वहां पहुचा तो उसे देखता ही रह गया क्या लग रही थी वो?

5’6″ हाईट, 34-28-34 फिगर, दूध जैसा सफेद रंग, किसी को अंदर से हिला दे!
एक पल तो लगा कि वो शादीशुदा नहीं है. पर गले में पड़ा मंगलसूत्र ने और सिंदूर ने यकीन दिलाया कि यह सिर्फ एक वहम है।

हमने साथ में कॉफी पी और मॉल में घूमे.

बातों बातों में पता चला कि उसकी शादी जल्दी हो गई थी. अकेली रहने की वजह से उसने टाइमपास के लिए फर्जी आईडी बनाई थी।

हम 2 घंटे साथ में रहे. उसे मेरा साथ पसंद आया और उसके साथ ही हमारी दोस्ती शुरु हो गई।

उस दिन के बाद से रोज हमारी रात भर बात होती और दिन में रोज़ घूमने जाते थे. हम एक दूसरे को पसंद करने लगे।

मगर वो शादीशुदा होने की कारण मेरी आगे बढ़ाने में फटती थी. पर जब भी मेरे को मौका मिलता तो मैं उस फ्लर्ट जरूर करता।

एक दिन मेरे घर में सब बाहर जा रहे थे और मैं घर में अकेला था. मैं उससे बात कर रहा था।
मैंने उसे बताया कि घर में कोई नहीं है. आ जाओ तो घर में पार्टी करते हैं.
वो तुरंत मान गई और आने को तैयार हो गई।

यह बात मैंने अपने एक दोस्त को बताई कि वो आ रही है घर पर!
तो उसने कहा- अगर वो आने को मान गई है तो उसके मन जरूर कुछ चल रहा है।
उसने कहा- कंडोम ले लेना. हो सकता है कि वो इसी वजह आ रही हो।

मेरा दोस्त इस मामले में खिलाड़ी आदमी था. तो उसने फर्स्ट टाइम होने की वजह से मेरे को कुछ टिप्स दिए।

रात भर नींद नहीं आ रही थी. मन में इस बात की खुशी थी कि कल में अपनी वर्जिनटी लूज करूंगा। रात में मैंने उसे याद कर के 2 बार मुठ मारी और सो गया।

सुबह 10 बजे कॉल आया कि उसे 12 बजे में सिविल लाइंस से पिक कर लूं।

मैं भी जल्दी तैयार होकर उसे लेने चला गया। वो सफेद रंग के सूट में थी. उस पर उसकी कजरारी आंखें और होंठों पर लाल लिपस्टिक, क़यामत लग रही थी।

मैं उसे घर में लेकर आ गया. उसे चाय पिलाई और उसके साथ बैठ कर सोफ़ा पर बात करने लगा। मैं उसे अपने बचपन की फोटो दिखाने लगा और उससे बातें करने लगा.

तब मैंने उससे पूछा कि वो एकदम से मेरे घर पर आने को कैसे मान गई?
उसने बताया कि तुमने कभी मेरे से बदतमीजी नहीं की, हमेशा प्यार से बात की, इससे तुम पर मेरा ट्रस्ट बन गया है कि तुम कभी मेरे साथ गलत नहीं करोगे।

वो मेरे साथ आ कर बैठ गई और बातों-2 में वो मेरे और चिपक कर बैठ गई।
मेरा लन्ड खड़ा हो गया. वो बार बार मेरी जांघ पर हाथ मार देती थी।

फिर मैं हिम्मत करके और उससे और चिपक कर बैठ गया. उसने कुछ नहीं कहा. फिर मेरी हिम्मत और बढ़ गई। मैंने उसकी आंखों में देखते देखते अपने होंठ उसके होंठों पर रख दिए और उसको अपनी गोदी में लेटा कर चूसने लगा।

वो भी साथ दे रही थी और मैं ऊपर से उसके बूब्स रगड़ रहा था।

कुछ देर बाद वो मेरे को धक्का दे कर उठी और बोली- यह सब गलत है और मैं अब घर जा रही हूं।
वो जाने लगी तो मैं उसे दीवार से लगा कर फिर स्मूच करने लगा और उसे अपने दिल की बात कह दी. मैंने उसे आई लव यू बोल दिया.
उसने भी मेरी आंखों में देखते हुए आई लव यू टू बोल दिया।

उसके इतना बोलते ही मैंने उसे गोदी में उठा कर सोफ़ा पर पटक दिया और टीशर्ट उतार कर उसके ऊपर चढ गया और पूरी बॉडी को चूमने लगा।

अब वो भी गर्म हो गई थी और आह . आह . की आवाज करने लगी।
वो भी मेरे बॉडी को चूमने लगी.

मैंने उसका सूट उतारा. वो सफेद ब्रा पैंटी पहनी हुई थी। वो उसमें मस्त माल लग रही थी।

Pages: 1 2